नही रहे पूर्व विधायक अभय राज किशोर

1995 में पहली बार जलालपुर से कम्युनिस्ट विधायक बने

बसपा के टिकट पर सारण से लोकसभा के बने थे प्रत्याशी

छपरा ( बिहार ) सारण के जलालपुर विधानसभा से पहली बार 1995 मे निर्वाचित हुए पूर्व विधायक अभय राज किशोर आज दुनिया को अलविदा कह गये। उनका अंतिम संस्कार जिले रिविलगंज स्थित सरयु नदी तट पर स्थित मुक्तिधाम पर हुआ। बताया जा रहा है कि उनकी मौत कोरोना से हुई है , लेकिन कई लोग बताये की दिवंगत विधायक कई वर्षों से इसनोफिलिया बीमारी से ग्रसित थे। दिवंगत पूर्व विधायक अभय राज किशोर बीस वर्ष के उम्र में ही भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का दामन थाम गरीबो व वंचितों की लड़ाई शुरू कर दी। हालांकि वे कई विधानसभा का चुनाव लड़े लेकिन वर्ष 1995 में जनता दल और कम्युनिस्ट पार्टी गठबंधन उम्मीदवार बन कर पहली बार जीत हासिल की। अपने कार्यकाल में कई महत्वपूर्ण कार्य किये जिसको आज भी लोग याद करते है। दिवंगत पूर्व विधायक अभय राज किशोर सादा जीवन के धनी थे। वे अक्सर शहरों में पैदल ही घूम कर समाज के वंचितों को उनके हक की आवाज उठाते रहते थे। वे भले ही कम्युनिस्ट पार्टी से अलग हुए लेकिन उनकी सोच हमेशा शोषित और वंचित समाज की लड़ाई पर केंद्रित रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *